Chanakya Niti: लक्ष्मी जी को प्रसन्न करना है तो चाणक्य की इन 3 बातों को जीवन में उतार लें, जानें चाणक्य नीति

 Chanakya Niti In Hindi: चाणक्य की चाणक्य नीति के अनुसार धनवान बनने की चाहत सभी के मन में होती है, लेकिन करोड़पति बनने की चाहत किसी किसी की ही पूरी हो पाती है. यदि आप भी धनी बनना चाहते हैं, ढेर सारी दौलत पाना चाहते हैं, तो चाणक्य की इन बातों को जरूर जान लें.

Chanakya Niti Hindi: चाणक्य शिक्षक होने के साथ साथ विभिन्न विषयों के जानकार भी थे. भारत के श्रेष्ठ विद्वानों की जब भी बात आती है तो चाणक्य का नाम भी जरूर लिया जाता है. चाणक्य की गिनती भारत के श्रेष्ठ प्रबुद्धजनों में की जाती है.

चाणक्य के अनुसार धन के बिना मनुष्य का जीवन कठिनाइयों और संघर्ष से घिर जाता है. धन पास न होने से दरिद्रता मनुष्य को घेरने लगती है, इसलिए जीवन में धन की विशेष अहमियत बताई गई है. लेकिन ये धन कैसे आता है? धन की देवी लक्ष्मी अपना आर्शीवाद किन लोगों को देती हैं? ये कुछ ऐसे प्रश्न हैं, जिनका उत्तर जानना सभी के लिए बहुत ही जरूरी है.

चाणक्य के मुताबिक यदि जीवन में धनवार बनना है तो कुछ ऐसी आदतों को अपने भीतर विकसित करना चाहिए जिससे लक्ष्मी जी का आर्शीवाद प्राप्त हो, ये आदते कौन- कौन सी हैं आइए जानते हैं-

Chanakya Niti: लक्ष्मी जी को प्रसन्न करना है तो चाणक्य की इन 3 बातों को जीवन में उतार लें, जानें चाणक्य नीति
Chanakya Niti: लक्ष्मी जी को प्रसन्न करना है तो चाणक्य की इन 3 बातों को जीवन में उतार लें, जानें चाणक्य नीति


करोड़पति बनना है तो कठोर अनुशासन अपनाएं

चाणक्य के अनुसार जीवन में धनवान वही बनता है जो कठोर अनुशासन का पालन करता है. आपके पास जितने भी करोड़पति और धनवान व्यक्ति हैं उनके जीवन पर नजर डालें तो पाएंगे कि वे किस तरह से अनुशासित जीवन शैली का पालन करते हैं. जो व्यक्ति आलस का त्याग नहीं कर पाता है, वह कभी धनवार नहीं बन पाता है. क्योंकि लक्ष्मी जी को नियमों का पालन करने वाले व्यक्ति प्रिय हैं.

स्वच्छता का महत्व जानिए

चाणक्य के अनुसार जो व्यक्ति स्वच्छता पर ध्यान नहीं देता है. स्वयं को सुंदर प्रस्तुत करने की कोशिश नहीं करता है, ऐसे लोगों में दूसरों को प्रभावित करने की क्षमता नहीं होती है. स्वच्छता के बारे में जो व्यक्ति अधिक चिंता नहीं करते हैं वे आलसी, बीमार, और आत्मविश्वास से कमजोर होते हैं. ऐसे लोगों में नवीन कार्य को करने की ऊर्जा नहीं होती है. इसलिए धनी बनना है तो स्वच्छता को अपनाएं.

समय पर सभी कार्यों को पूरा करें

चाणक्य कहते हैं कि समय की कीमत के आगे कोई भी चीज मूल्यवान नहीं है, जो समय की कीमत नहीं जानता, उसे छोटी- छोटी सफलताएं भी देर से प्राप्त होती हैं. आज के काम को कल पर नहीं टालना चाहिए, जो लोग ऐसा करते हैं, वे धन के मामले में दूसरों से पीछे रहते हैं.

Chanakya Niti: लक्ष्मी जी को प्रसन्न करना है तो चाणक्य की इन 3 बातों को जीवन में उतार लें, जानें चाणक्य नीति

Post a Comment

[random][list]
[blogger][facebook]

Contact Form

Name

Email *

Message *

Powered by Blogger.